Header Ads

बारिश का भरपूर मजा लें लेकिन फ्लू से बचें,

बारिश का भरपूर मजा लें लेकिन फ्लू से बचें, जानिए एक्‍सपर्ट की राय



तपती गर्मी के बाद जब बारिश की बूंदें पड़ती हैं, तो गजब का सुकून मिलता है। शायद ही कोई ऐसा होगा, जिसका मन इस बारिश में भीगने का न करे। गर्मी से राहत पाने के लिए सभी बारिश का मजा लेना चाहते हैं। लेकिन मानसून ठंडक के साथ अपने साथ कुछ बीमारियां भी लेकर आता है। जी हां भारत में मानसून अपने साथ फ्लू जैसी बीमारियां भी लेकर आता है। इस मौसम में छोटे बच्चों से लेकर बड़े तक सभी फ्लू का शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा बार-बार बदलते तापमान का भी शरीर पर बुरा असर पड़ता है, इसलिए मानसून का आनंद लेने के साथ-साथ खुद को हेल्‍दी रखना भी जरूरी है। इस बारे में हमें नई दिल्ली के इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स में इंटरनल मेडिसीन सीनियर कंसल्टेंट डॉक्‍टर तरुण साहनी बता रहे हैं। 

डॉक्‍टर तरुण साहनी ने कहा, ''फ्लू का इंफेक्‍शन हालांकि जानलेवा नहीं होता, लेकिन छोटे बच्चों और बुजुर्गो में इसके कारण कई समस्याएं हो सकती हैं। खासतौर पर उन लोगों पर इसका बुरा असर पड़ता है, जिनकी इम्यून सिस्टम कमजोर हो।''



फ्लू के लक्षण
फ्लू के लक्षणों के बारे में उन्होंने कहा, मानसून में होने वाला फ्लू दो हफ्ते में ठीक हो जाता है, लेकिन कुछ समय के लिए इसके लक्षण बहुत ज्यादा परेशान कर सकते हैं। इसके कुछ आम लक्षण हैं-
तेज बुखार पसीना आना
कंपकंपी छूटना
लगातार खांसी
नाक बहना
शरीर में दर्द
त्वचा पर रैशेज


खुद को इंफेक्‍शन से बचाएं

डॉक्‍टर साहनी ने कहा, इस सीजन में खुद को इंफेक्‍शन से बचाएं। जिन चीजों को लोग ज्यादा छूते हैं, वहां पर रोग फैलाने वाले बैक्‍टीरिया बहुत जल्दी पनपते हैं। हवा के जरिए भी सांस से ये बैक्‍टीरिया एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल जाते हैं। लेकिन सावधानी बरतने से फ्लू की संभावना को कम किया जा सकता है।
हाथों की सफाई है बेहद जरूरी

उन्होंने सुझाव देते हुए कहा, खाना खाने से पहले हाथ धोना बहुत जरूरी है, क्योंकि ये बैक्‍टीरिया शारीरिक संपर्क से फैलते हैं। रेगुलर एक्‍सरसाइज करें, इससे बॉडी की इम्‍यूनिटी मजबूत बनती है। पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं, हेल्‍दी और पोषक तत्‍वों से भरपूर आहार लें। अच्‍छा खाने से इम्‍यूनिटी मजबूत होती है। इन्फ्लुएंजा से बचने के लिए वैक्सीन उपलब्ध है, लेकिन यह उन्हीं लोगों को देनी चाहिए जिनमें इंफेक्‍शन की आशंका अधिक हो।

डॉक्‍टर से सलाह लें

डॉक्‍टर साहनी ने कहा, बुखार और बॉडी पेन को कम करने के लिए दवाएं ली जा सकती हैं। कफ ड्रॉप खांसी से राहत देते हैं, लेकिन अगर लक्षण बहुत ज्यादा परेशान कर रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह लें। मानसून में सेकेंडरी इन्फेक्शन भी हो सकता है। ऐसे मामलों में दोस्तों, इंटरनेट की सलाह से दवाएं लेने बजाए डॉक्टर से सलाह लें। आराम करें, कम से कम 8 घंटे की नींद लें। मानसून फ्लू के इंफेक्‍शन को ठीक करने के लिए आराम करना बहुत जरूरी है।
इन 4 एक्‍सरसाइज को अपनाएं, बैली फैट को दूर भगाएं
रात में खाना जल्दी खाएं और महिलाओं की इस '1 बड़ी' बीमारी से आसानी से बचें




अगर आपको जल्दी खाना खा लेने की आदत है तो आप यह बात जानकर खुश हो सकती हैं कि आप महिलाओं को होने वाली दो बड़ी बीमारियों के जोखिम को कम कर रही हैं। एक नए अध्ययन में यह बात सामने आई है कि 9 बजे से पहले खाना खा लेने या फिर सोने से दो घंटे पहले खाना खा लेने से ब्रेस्ट कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 20 फीसदी तक कम हो जाता है। बार्सिलोना इंस्टीट्यूट फॉर ग्लोबल हेल्थ ने ऐसे 621 लोगों को फॉलो किया, जिन्हें प्रोस्टेट कैंसर था और 1205 ऐसे मरीजों को फॉलो किया, जिन्हें ब्रेस्ट कैंसर था। इसके अलावा उन्होंने 872 पुरुषों और 1321 महिलाओं को फॉलो किया, जिन्हें कैंसर नहीं था और उनके लाइफस्टाइल फैक्टर्स जैसे कि उनके खानपान, बेड पर जाने की आदतों और एक्सरसाइज रूटीन आदि पर ध्यान दिया।

रिसर्चरों ने पाया कि कैंसर पेशंट आमतौर पर देर से खाना खाते हैं। स्टडी के लीड ऑथर मेनोलिस कोगेविनास का कहना था, 'अपनी स्टडी से हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि जल्दी खाना खा लेने से कैंसर का जोखिम कम हो जाता है।'

जल्दी खाना खाने के और भी हैं फायदे 
रात को जल्‍दी डिनर करने से पेट ठीक रहता है, सुबह फ्रेश महसूस होता है, शरीर में एनर्जी महसूस होती है और मोटापा भी धीरे-धीरे कम होने लगता है। आप जिस तरह का खाना अच्छा लगे, खा लें, भले ही उसमें थोड़ी ज्यादा कैलोरी ही क्‍यों ना हों। खाना खाने के बाद वॉक जरूर करें। 
सीने में नहीं होगी जलन

अगर आप खाना खाने के बाद तुरंत सोने चली जाती हैं तो मुमकिन है कि आपको सीने में जलन महसूस हो लेकिन खाना खाने के एक या दो घंटे बाद सोने से इस तरह की समस्या नहीं आती। 

रहती हैं एनर्जेटिक

जल्दी खाना खा लेने से शरीर की डाइजेशन प्रोसेस सही रहती है। इससे आप आपको अगले दिन के लिये पर्याप्त एनर्जी मिल जाती है। साथ ही पेट भी हल्‍का रहता है और गैस की शिकायत नहीं होती।
नींद आती है अच्छी

देर से खाना खाने पर ठीक से नहीं पच पाता। इससे आपको असहज महसूस होता है और सोने में भी दिक्कत महसूस हो सकती है, लेकिन जल्दी खाना खा लेने पर आपका पेट खाना ही तरीके से पचा लेता है और में आप सुकून भरी नींद सो पाती हैं। 

ये तेल इस्‍तेमाल में लाएंगी तो बीमारियों को भूल जाएंगी




हेल्‍थ से लेकर ब्‍यूटी तक, नारियल तेल प्रकृति का बेहद अनमोल उपहार है। जी हां नारियल तेल प्राकृतिक तेल है जिसके इस्तेमाल से आपको कई फायदे होते हैं। कई गुणों से भरपूर यह तेल स्‍वास्‍थ्‍य फायदों के लिए पीढ़ियों से इस्तेमाल में लाया जा रहा है। 'बिड़ला आयुर्वेद' के आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉक्टर प्रियंका संपत ने नारियल तेल के ये फायदे बताए हैं। आइए हमारे साथ-साथ आप भी इसके फायदों के बारे में जानें।
त्‍वचा रोगों से बचाएं

नारियल तेल त्वचा के लिए नेचुरल मॉइश्चराइजर का काम करता है, यह डेड स्किन को हटाकर रंग निखारता है, चूंकि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है, इसलिए इसका इस्तेमाल त्वचा रोग, डर्मेटाइटिस, एक्जिमा और स्किन बर्न में किया जा सकता है। नारियल तेल स्ट्रेच मार्क्स हटाने में भी मदद करता है और होंठ को फटने से बचाने के लिए भी इसे नियमित रूप से होंठ पर लगाया जा सकता है।

अर्थराइटिस का दर्द दूर करें


आयुर्वेद में पित्त वृद्धि के कारण नारियल तेल का इस्तेमाल अर्थराइटिस, जोड़ों के दर्द को कम करने के लिए किया जाता है। यह हड्डियों में कैल्शियम और मैग्नीशियम अवशोषित करने की क्षमता में सुधार करता है।
रूसी दूर भगाएं

नारियल तेल बालों को घना, लंबा और चमकदार बनाने में काफी मददगार साबित होता है। सिर में सिर्फ पांच मिनट नारियल तेल से मसाज करने से न सिर्फ ब्‍लड सर्कुलेशन बढता है बल्कि खो चुके कई पोषक तत्वों की भी भरपाई होती है, नियमित रूप से नारियल तेल से मसाज करने से बालों में रूसी नहीं होती है।

मसूड़ों की समस्‍या दूर भगाएं

नारियल तेल को मुंह में करीब 20 मिनट तक रखने के बाद थूक देने से मुंह के बैक्‍टीरिया और मसूड़ों की समस्याएं दूर होती है। हेल्‍दी मसूड़ों के लिए हफ्ते में कम से कम तीन बार नारियल तेल से ऑयल पुलिंग जरूर करें।


वजन कम करें


'हिंदूजा हेल्थकेयर सर्जिकल' में टीम लीडर डाइटीशियन इंद्रायनी पवार के अनुसार, ''नारियल तेल के इस्तेमाल से वजन भी कम किया जा सकता है। ताजे नारियल से निकाले गए तेल में अन्य नारियल तेलों की अपेक्षा ज्यादा मीडियम चेन फैटी एसिड्स (70-85 प्रतिशत) होता है। मीडियम चेन फैटी एसिड्स आसानी से ऑक्सीडाइज्ड लिपिड्स होते हैं और एडीपोज टिश्‍यु में इकट्ठे नहीं होते हैं। इस प्रकार, मुख्य रूप से मीडियम चेन फैटी एसिड युक्त नारियल का तेल वजन घटाने में मददगार साबित होता है।
डाइटीशियन इंद्रायनी पवार के अनुसार, ''नारियल तेल लॉरिक एसिड और कैप्रिक एसिड की तरह एंटीमाइक्रोबियल लिपिड का एक समृद्ध स्रोत होता है, जो एंटीफंगल और जीवाणुरोधी होते हैं। खाना पकाने में नारियल का तेल ज्यादा अच्छा रहता है। इसका तेल ऑक्सीकरण के प्रति कम असुरक्षित होता है, जो इसे खाना पकाने के लिए सबसे सुरक्षित बनाता है।''




Cellulite ने स्मूथ बॉडी की चाह को कर दिया है चकनाचूर तो अपनाये नारियल तेल



हर महिला की चाह होती है कि उसकी स्किन सॉफ्ट और स्‍मूथ हो। लेकिन cellulite की समस्‍या ज्‍यादातर महिलाओं की इस चाहत को चकनाचूर कर देती है। Cellulite के कारण स्किन bumpy हो जाती है जो दिखने में बेहद बुरी लगती है। हालांकि बाजार में कई तरह के ट्रीटमेंट मौजूद हैं जो अच्‍छे परिणाम का दावा करते हैं लेकिन क्‍या सच में वह आपकी उम्‍मीदों पर खरा उतरते हैं? शायद नहीं। 

अगर आप भी इस समस्‍या से जूझ रही हैं तो परेशान ना हो क्‍योंकि नारियल तेल की हेल्‍प से आप cellulite की समस्‍या से बहुत ही जल्‍द छुटकारा पाकर सुपर smooth और cellulite-free skin पा सकती हैं। जी हां नारियल तेल cellulite से छुटकारा पाना का बहुत ही प्रभावी उपाय है। क्‍या सच में नारियल तेल cellulite से छुटकारा पाने में प्रभावी है? और यह कैसे काम करता है जानने के लिए हमारा यह आर्टिकल पढ़ें। 
Cellulite क्या है?

Cellulite तब होता है जब फैट का बॉडी पर जमाव, जिससे स्किन unequal हो जाती है। यह फैट हमारी thighs, hips, butt और abdomen के पास पाया जाता है। जब किन्हीं कारणों से cellulite स्किन के कनेक्टिव टिश्यूज के विपरीत जाने लगते हैं, तब स्किन सिकुड़ने लगती है या गड्ढेदार दिखाई देने लगती है। ऐसे में ही स्किन का टेक्चर खुरदुरा हो जाता है।



Cellulite बहुत असामान्य नहीं है। बहुत सी महिलाओं, खासकर जो teens और middle age में हैं, उनको यह समस्‍याएं बहुत ज्‍यादा होती हैं। हालांकि यह थोड़ी आश्चर्य की बात है, लेकिन आनुवंशिकी cellulite के गठन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह समस्‍या महिलाओं को ज्‍यादा होती है क्‍योंकि उसकी बॉडी में फैट सेल्स ज्‍यादा होते हैं। वजनी और दुबली-पतली दोनों ही महिलाओं के बॉडी में cellulite मौजूद होता है, लेकिन नोटिस सिर्फ ज्‍यादा वजन वाली महिलाओं में ही होता है। विशेषज्ञ कहते हैं कि इसे कंट्रोल किया जा सकता है।


Cellulite की समस्या केवल मोटापे से संबंधित नहीं होती है बल्कि बॉडी में एस्ट्रोजन हार्मोन के असंतुलन के कारण भी होती है। चूंकि यह हार्मोन महिलाओं के बॉडी में ही पाया जाता है, इसलिए इसमें असंतुलन आने से महिलाएं त्वचा में खिंचाव महसूस करती हैं और उनकी बॉडी पर झुर्रियां भी जल्दी पड़ जाती हैं। हालांकि cellulite हेल्‍थ के लिए खतरनाक नहीं है, लेकिन यह देखने में भद्दा लगता है इसलिए इसे कम किया जाना चाहिए।
नारियल तेल डाइट में लेना 

नारियल के तेल का उपयोग रोजाना करना चाहिए। आप इसके लिए दो चम्‍मच नारियल का तेल वर्कआउट से पहले ले सकती है या इसे खाने पकाने में इस्‍तेमाल कर सकती हैं। नारियल का तेल बॉडी में natural fat को जलाने की प्रक्रिया को तेज करता है और cellulite को जलाने में मदद मिलती है। अपनी डाइट में दो से तीन चम्मच लेना पर्याप्त होता है।
Cellulite वाले हिस्‍से में लगाना

नारियल तेल का topical application भी सेल्युलाईट से छुटकारा पाने का सबसे आसान तरीका है। इसके लिए आप रोजाना virgin coconut oil से cellulite वाले हिस्‍से में मसाज करना होगा। यह तेल human skin में आसानी से अवशोषित हो जाता है और सेल्‍स में फैट के जमाव को कम करता है। यह स्किन को पोषण करने के साथ-साथ उसे softer, smoother और younger-looking बनाती है।
Cellulite के लिए ड्राई ब्रश और नारियल तेल

Cellulite को हटाने का यह बहुत ही popular method है। इस method में cellulite वाली स्किन के हिस्‍स में नारियल का तेल लगाया जाता है। फिर, हिस्‍से को ड्राई ब्रश के साथ मसाज किया जाता है। अच्‍छे नतीजे के लिये, आप एक natural, preferably vegetable-based brush चुनें। हॉट शॉवर के तुरंत बाद नारियल का तेल लगाकर ब्रश से रगड़ें। इससे बॉडी lymphatic system उत्‍तेजित होता है। इस method की हेल्‍प से कोशिका में जमा होने वाले विषाक्त पदार्थों और फैट को दूर करने में हेल्‍प मिलती है जो कि pores को खोलती है। Dry brushing भी इससे छुटकारा पाने में हेल्‍प करता है।

Cellulite के लिए कॉफी और नारियल तेल
घर पर आप कॉफी और नारियल तेल से बना फेस स्‍क्रब बनाकर भी इसे दूर कर सकती है। इस स्‍क्रब से आपकी स्किन soft और smooth भी कर सकती हैं। इसके लिए आपको सिर्फ इतना करना है कि नारियल के तेल को चीनी और कॉफी बीन्‍स के साथ मिलाकर नैचुरल स्‍क्रब बनाना है ताकी आप अपनी स्किन पर cellulite को कम करने के लिए रगड़ सकें। 

कॉफी का rough और raw texture और चीनी का exfoliant रूप clogged pores को खोलता है, जबकि नारियल का तेल स्किन में उचित hydration बनाए रखता है। यह पेस्‍ट बॉडी में उचित लिम्फ / ब्‍लड सर्कुलेशन को उत्तेजित करता है। इस पेस्‍ट को बनाने के लिए गर्म नारियल तेल का उपयोग करना एक अच्छा विचार है। 

इस तरह से आप खाने और लगाने दोनों ही तरह से आप cellulite को काफी हद तक कम कर सकती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.