Header Ads

अच्छी नींद के लिए सोने से पहले खाए जाने वाले खाद्य पदार्थ –


अच्छी नींद के लिए सोने से पहले खाए जाने वाले खाद्य पदार्थ – 



Best Foods for Good Sleep in Hindi आज हम आपको अच्छी नींद के लिए सोने से पहले खाए जाने वाले उन खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहें है जो आपको रात में पूरी नींद लेने में मदद करेंगे साथ ही उन खाद्य पदार्थों के बारे में भी जिन्हें बिस्तर में जाने से पहले खाने से बचना चाहिए।

अच्छी नींद लेना स्वस्थ्य रहने के लिए बहुत ही जरुरी होती है। अच्छे तरीके से ली गई नींद कुछ पुरानी बीमारियों के उत्पन्न होने के जोखिमों को भी कम कर सकती है, दिमाग और पाचन तंत्र को स्वस्थ रख सकती है, और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत कर रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ा सकती है।

आम तौर पर स्वस्थ जीवन जीने के लिए, प्रत्येक रात 7 से 9 घंटे के बीच बिना किसी बाधा के नींद लेने की सिफारिश की जाती है, हालांकि कई लोग पर्याप्त नींद नहीं ले पते है और इसके लिए बहुत संघर्ष करते हैं।

अच्छी नींद में वृद्धि करने लिए आप कई आदतें अपना सकते हैं, जिनमें से आहार में बदलाव, एक प्रमुख तरीका हैं। क्योंकि कुछ खाद्य पदार्थों में नींद में वृद्धि करने वाले गुण होते हैं। नींद की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए आप बिस्तर में जाने से पहले या सोने से पहले नीचे दिए गए सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं।

अच्छी नींद के लिए खाये बादाम – Eat Almonds for Good Sleep in Hindi


विभिन्न स्वास्थ्य लाभों से परिपूर्ण बादाम, ड्राई फ्रूट्स का एक प्रकार है। बादाम बहुत से पोषक तत्वों का एक उत्तम स्रोत हैं, क्योंकि लगभग 28.3495 ग्राम में दैनिक क्रियाओं के लिए उपयोगी होने वाले फॉस्फोरस का 14%, ,मैंगनीज का 32% और रिबोफ्लाविन का 17%, शामिल होता हैं। इसके अलावा नियमित रूप से बादाम खाने से कुछ बीमारियों जैसे- मधुमेह और हृदय रोग, के होने का खतरा कम होता हैं। क्योकि इन विशेषताओं के लिए बादाम में पाई जाने वाली स्वस्थ सामग्री जैसे मोनोअनसेचुरेटेड (monounsaturated) वसा, फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट्स, जिम्मेदार होती है।
बादाम, नींद को बढ़ावा देने वाला हार्मोन मेलाटोनिन का अच्चा स्रोत हैं। इसीलिए यह अच्छी नींद लेने में भी मदद करता हैं।

बादाम में मैग्नीशियम की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है, जो नींद की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए उपयोगी है। जो लोग अनिद्रा की बीमारी से पीड़ित है उन लोगों के लिए बादाम सबसे अच्छा साधन हैं।


इसके अतिरिक्त, यह तनाव हार्मोन कोर्टिसोल जो नींद को बाधित करता है, के स्तर को कम करने में मदद करता है।

गहरी नींद के आसान उपाय कैमोमाइल चाय – Achi need ke Liye Chamomile Tea in Hindi


कैमोमाइल चाय एक लोकप्रिय हर्बल चाय है, जो विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है। कैमोमाइल चाय एंटीऑक्सिडेंट्स की तरह सूजन को कम करती है।
कैमोमाइल चाय पीने से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ सकती है, चिंता और अवसाद कम हो सकता है, और त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है। इसके अलावा, कैमोमाइल चाय के कुछ अद्वितीय गुण, नींद की गुणवत्ता में सुधार कर सकते हैं।


विशेष रूप से, कैमोमाइल चाय में एपिगेनिन होता है, जो नींद को बढ़ावा देता है, और अनिद्रा को कम करता है।

यदि आप अपनी नींद की गुणवत्ता में सुधार करना चाहते हैं, तो निश्चित ही कैमोमाइल चाय बहुत उपयोगी सिद्ध हो सकती है। अतः बिस्तर पर जाने से पहले कैमोमाइल चाय अवश्य ही उपयोग में लायें।

अनिद्रा रोग का उपचार फैटी मछली – Fatty Fish For Insomnia in Hindi

सैल्मन, ट्यूना, ट्राउट और मैकेरल (salmon, tuna, trout and mackerel) जैसे फैटी मछली निश्चित रूप से स्वास्थ्य के लिए अच्छी मानी जाती हैं। क्योंकि इनमें विटामिन डी की मात्रा अधिक पाई जाती है।
इसके अतिरिक्त, स्वस्थ फैटी मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड, विशेष रूप से ईपीए और डीएचए (EPA and DHA) की मात्रा अधिक होती है, ये दोनों एसिड सूजन को कम करने के रूप में जाने जाते हैं। ओमेगा-3 फैटी एसिड हृदय रोग के उपचार में भी सहायता करते हैं, और मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं।

फैटी मछली में उपस्थित ओमेगा-3 फैटी एसिड और विटामिन डी में संयुक्त रूप से नींद की गुणवत्ता में वृद्धि करने की क्षमता होती है।

रत को सोने से पहले फैटी मछली का सेवन करने से व्यक्ति बहुत जल्दी, अधिक गहरी और अच्छी नींद में सो सकता है।

अच्छी नींद के उपाय सफ़ेद चावल – Achi need Ka Upay White Rice in Hindi


सफेद चावल एक अनाज है, जिसे कई देशों में व्यापक रूप से मुख्य भोजन के रूप में उपयोग किया जाता है।

सफेद और भूरे रंग के चावल के बीच अंतर यह है कि सफेद चावल के ब्राउन परत को हटाकर फाइबर, पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा कम कर दी जाती है। फिर भी, सफेद चावल में कुछ विटामिन और खनिजों की उचित मात्रा होती है, जो दैनिक कार्यों के लिए उपयोगी होते है।

यह सुझाव दिया गया है कि बिस्तर में से कुछ घंटे पहले या सोने के कुछ घंटे पहले सफेद चावल जैसे- उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ, खाने से नींद की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है।

सोने के समय, कम से कम एक घंटे पहले खाया जाने वाला सफेद चावल नींद में सुधार करने के लिए सबसे अधिक प्रभावी माध्यम है।

अच्छी नींद लाने के उपाय दूध – Achi neend Lane Ke Liye Milk in Hindi


दूध में शामिल एमिनो एसिड ट्रिप्टोफेन (tryptophan), मस्तिष्क रासायनिक सेरोटोनिन (serotonin) को प्रेरित करता है। माना जाता है कि ट्रिप्टोफेन और सेरोटोनिन, नींद को आसान बनाते है। अतः एक ग्लास साधारण दूध, अच्छी नींद में मदद करता है।

सोने से पहले एक ग्लास दूध,अच्छी नींद के लिए सबसे अच्छा साधन माना जाता है।

रात को अच्छी नींद आने के उपाय कीवी – Achi neend aane ke liye gharelu nuskhe Kiwi in Hindi


एक सामान्य कीवी में केवल 50 कैलोरी ऊर्जा और पोषक तत्वों की महत्वपूर्ण मात्रा होती है, जिसमें दैनिक आवश्यकताओं के लिए, उपयोग किये जाने वाले विटामिन-सी का 117% और विटामिन-K का 38% शामिल हैं।
इसमें फोलेट और पोटेशियम की पर्याप्त मात्रा के साथ ही बहुत से खनिज भी शामिल हैं।

इसके अलावा, कीवी खाने से आपके पाचन तंत्र को लाभ पहुँचता है, सूजन को कम करने में मदद मिलती है और यह कोलेस्ट्रॉल को भी कम कर सकती है।

ये गुण कीवी में फाइबर और कैरोटेनोइड (carotenoid) एंटीऑक्सीडेंट की उच्च मात्रा के कारण होते हैं। कीवी में उपस्थित लाभदायक तत्व, मस्तिष्क रसायन सेरोटोनिन को उत्प्रेरित करने का काम करते है। जिसके कारण किवी को, नींद की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए, सोने से पहले खाए जाने वाले सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है।
गहरी नींद के आसान उपाय में करें केले का सेवन – Bananas for Deep Sleep in Hindi


आम तौर पर ऊर्जा-बढ़ाने वाले भोजन के रूप में केले का सेवन किया जाता है जो मैग्नीशियम से परिपूर्ण होते हैं, जो मांसपेशियों को आराम देते हैं। इसके साथ ही उनमें सेरोटोनिन और मेलाटोनिन भी होते हैं, जो अच्छी नींद को प्रोत्साहित करते हैं।

इसके अतिरिक्त इसमें वे कार्बोहाइड्रेट भी पाए जाते है जो अच्छी नींद को बढ़ावा देते है।

अतः बिस्तर में जाने से पहले केले का सेवन अच्छी नींद के लिए बहुत लाभदायक है।

रात में अच्छी नींद आने के उपाय खट्टा चेरी जूस – Rat Me Achi need lane ke Upay Cherry Juice in Hindi


महत्वपूर्ण पोषक तत्वों जैसे विटामिन ए, विटामिन सी और मैंगनीज से परिपूर्ण चेरी जूस को विभिन्न स्वस्थ लाभदायक के रूप में जाना जाता है। यह एंटीऑक्सीडेंट के अतिरिक्त एंथोसायनिन और फ्लैवोनोल (flavonols) का समृद्ध स्रोत है। एंटीऑक्सिडेंट आपकी कोशिकाओं को हानिकारक सूजन से बचा सकता है। खट्टी चेरी का जूस नींद को बढ़ावा देने के लिए भी जाना जाता है।

अतः यह अनिद्रा को दूर करने और नींद की गुणवत्ता सुधारने के लिए लाभदायक है। नींद को बढ़ावा देने वाला हार्मोन मेलाटोनिन चेरी के रस में उपस्थित होने के कारण इसे सोते समय खाए जाने वाली सामग्री में शामिल किया जा सकता है।
अच्छी नींद के लिए घरेलू उपाय है पालक – Spinach For Good Sleep in Hindi


नींद-प्रेरित पोषक तत्वों से भरपूर, पालक अनिद्रा से पीड़ित लोगों का सबसे अच्छा दोस्त है।

पालक ट्रिप्टोफान (tryptophan), का बहुत अच्छा स्रोत है, इसके साथ ही फोलेट, मैग्नीशियम, विटामिन-बी6 और विटामिन-सी का एक उत्कृष्ट स्रोत है। ये सभी कारक सेरोटोनिन को संश्लेषित करने में मदद करते हैं। पालक में ग्लूटामाइन भी होता है, जो अच्छी नींद का प्रमुख कारक है।

बिस्तर में जाने से पहले केले और बादाम के दूध के साथ कच्ची पालक खाना सबसे अधिक लाभदायक है।

इसके अतिरिक्त आप रात में बिस्तर में जाने से पहले इन खाद्य सामग्री का उपयोग कर सकते है जैसे – अखरोट, शहद इत्यादि।

सोने से पहले क्या खाने से बचें – Avoid eating before Sleep in Hindi

रात में सोने से पहले कुछ पदार्थों का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। अतः नीचे दिए गए कुछ खाद्य पदार्थों को रात के समय खाने से बचें क्योकि ये पदार्थ आपकी नींद में बाधा उत्पन्न कर सकते है।

शराब (Alcohol) – शराब गहरी और अच्छी नींद के लिए बहुत हानिकारक होती है। अतः रात के समय शराब का सेवन सेहत और अच्छी नींद के लिए ना करें।


पनीर (Cheese) – पनीर में एमिनो एसिड टायरामाइन (tyramine) के उच्च स्तर होते हैं, जो वास्तव में मस्तिष्क को अधिक सतर्क बनाते हैं। जिससे रात के समय सोने में रूकावट आ सकती है।


मसालेदार भोजन (Spicy food) – मिर्च में कैप्सैसिन (capsaicin) होता है जो आपके शरीर को तापमान को नियंत्रित करने में कठिनाई पैदा करता है। जिसके परिणामस्वरूप रात की नींद आरामदायक नहीं होती है।

फैटी भोजन (Fatty food) – फैटी खाद्य पदार्थ का पाचन कठिनाई से होता है और हार्टबर्न (heartburn) पैदा होने की अधिक संभावना होती है, जो नींद को ओर अधिक कठिन बनाता है।
कॉफी (Coffee) – कॉफी में कैफीन उत्तेजक पाया जाता है जिसका तंत्रिका तंत्र में लंबे समय तक प्रभाव रहता है, और इसे लेने के दस घंटे बाद भी इसके प्रभाव को महसूस किया जा सकता हैं। अतः रात को सोते समय कॉफी का सेवन करना नींद को कमजोर और थकावट पूर्ण बनाती है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.